प्रभारी मंत्री का आभार व्यक्त किया सतनामी समाज ने

कोरिया

छ0ग0 जय सतनाम जन कल्याण परिषद जिला कोरिया के द्वारा कोरिया जिले के प्रभारी मंत्री माननीय डाॅ0 शिवकुमार डहरिया नगरी प्रशासन एवं विकास तथा श्रम विभाग के प्रथम आगमन पर सतनाम धाम सुभाष नगर चरचा कालरी में स्वागत समारोह का आयोजन किया गया है। प्रथम चरण में नगर आगमन पर नगर पालिका अध्यक्ष अजित लकड़ा, उपाध्यक्ष जानू वसीम, सी0एम0ओ0 तथा पार्षदों के द्वारा स्वागत किया गया। सतनाम धाम पहुंचने पर संरक्षक डी0आर0कुर्रे जिला संयोजक लक्ष्मीकांत कोसरिया, जिला अध्यक्ष विरेन्द्र अजगले के आगवानी में सतनाम जयकारा के साथ गव्य स्वागत किया गया। मिनी माता महिला समिति के अध्यक्ष कौशिल्या खटकर, उपाध्यक्ष भवगती वर्मा, सचिव सीमा डुण्डे के नेतृत्व में महिला दल ने पुष्प आरती के साथ स्वागत करते हुये गुरू गद्दी तक पहुचाया। सतनामी संस्कृति के अनुसार विधिवत् मंत्री जी सहित सभी अथितियों ने गुरू गद्दी की पुजन अर्जन किया और सत्य के प्रतीक जय स्तम्भ पर पुष्प अर्पित कर नमन किया।


द्वितीय चरण में सभागार में स्वागत समारोह आयोजित हुआ, कार्यक्रम संचालक प्रो0एम0सी0 हिमधर ने माननीय मंत्री जी को सतनामी समाज का गौरव बताते हुये बताया की कोरिया जिला मिनी छ0ग0 है जहाॅ विभिन्न जिलों के सतनामी समाज के लोग अधिकारी कर्मचारी के रूप में गंभीर समय से निवासरत हैं। गुरू घासीदास जी के बताये मार्ग पर चल कर समाज को संगठित कर रचनात्मक कार्य करें हैं प्रति वर्ष भव्य जिला स्तरीय गुरू घासीदास जयंती मनाते हैं। जिला अध्यक्ष विरेन्द्र अजगले नें वर्ष 2007 में सतनाम धाम की स्थापना से लेकर आज तक के विकास गाथा पर प्रकाश डाला तथा सभी संस्थापक एवं सहयोगियों के0के0 खेलवार, ए0 आर0 भास्कर, लक्ष्मी कांत गायकवाड़, जी0सी0 खाण्डेकर, आर0पी0 मिरे, डाॅ0 जी0डी0 बघेल, पूर्व अध्यक्ष राजेष सिंह, कुन्ती चक्रधारी, भूपेन्द्र यादव, पूर्व श्रम मंत्री भईया लाल राजवाड़े, एन0आर0 रत्नेश एवं अजीत लकड़ा आदि के योगदान को याद किया। तद्उपरान्त परिषद के पदाधिकारियों और सदस्यों को महामाला शाल, श्री फल के माध्यम से माननीय मंत्री डाॅ0 शिव डहरिया ,राज्य मंत्री गुलाब कमरो, विधायक द्वय श्रीमती अम्बिका सिंहदेव , डाॅ0 विनय जासवाल , नगर पालिका अध्यक्ष, अशोक जायसवाल, अजीत लकड़ा, जिला पंचायत अध्यक्ष कलावती मरकाम, कलेक्टर कोरिया श्री डोमन सिंह, नजीर अजहर का सम्मान किया गया। मुख्य अथिति ने अपने उद्भोधन में कहा कि इस कोयलांचल में सतनामी समाज द्वारा स्थापित सतनाम धाम एवं समाज के द्वारा किये जा रहे रचनात्मक कार्य प्रशंसनीय है।जो अन्य जिलों के लिये अनुकरणीय है।उन्होनें गुरू बाबा के संन्दशो पर प्रकाश डालते हुये कहा कि सतनामी कोई जाती नहीं है एक पंथ है। जो सत्य के मार्ग पर चलता है वही सतनामी कहलाता है। गुरू बाबा का संदेश सभी समाज के लिये प्रासंगिक है। मुझे उम्मीद है मेरा समाज किसी तरह एक जुट रहकर सेवा भावना से कार्य करते रहेंगें। उन्होने अध्यक्ष के मांग पर सतनाम धाम में चितंन कक्ष एवं लाइबे्ररी हेतु 20 लाख रूपये अपने निधि से देने की घोषणा की साथ ही सरदार हरजीत सिंह द्वारा 1 लाख रूपये देने की घोषणा भी की गई आभार प्रदर्शन जिला पी0आर0ओ0 लक्ष्मी कांत कोसरिया ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में सचिव वलीराम पंकज कोषाध्यक्ष जागृत कुर्रे मिडिया प्रभारी अरूण निराला, बाबा दुजराम खुटे, पिन्टू भास्कर, कृष्ण कुमार खटकर, लाखन डहरिया, सत्य प्रकाश चतुर्वेदी, एस0 एल0 महिलागें, अमृत टुण्डें, साधलाल साण्डे, गणेश कुर्रे, विजय अनन्त, जयंत चंदेल, के0पी0जोगी, त्रिवेणी कुर्रे, प्रमिला रात्रे, उशा निराला, जीवन लाल रात्रे, मधुबारले, फिरतीन बाई, अनील लहरे, मालिक राम वारे, लाभो पंकज, नवधा निराला, मालिक राम मनहर, राजू भास्कर, मनीेश बंजारे का सराहनीय योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *